Wednesday, April 25, 2018

आसाराम और हम भगवा भक्त


...मेरे जैसे बेचारे कई लोग कल सुबह से हवन में लगे थे...पता नहीं कैसा हवन था...भगवान नहीं पसीजे...जज के ज़रिए बता दिया कि यह बाबा नहीं बलात्कारी है...धर्म पर संकट भारी है। कितना क्रूर है भगवान ....रामरहीम से लेकर आसाराम तक सब भगवान की ब्रैंडिंग करते आए लेकिन भगवान पसीजा नहीं।...फ़ैसला सुना दिया...

भगवा भक्तों पर तरस आता है। सारे भगवा आईटी सेल में नहीं हैं। कुछ बेरोज़गार हैं। कुछ छोटी मोटी नौकरी करते हैं लेकिन मोई जी, भगवा और धर्म को बचाने के लिए इंटरनेट पर दस बीस रूपया रोज़ ख़र्च करते हैं। इंटरनेट पर हवन हो सकता तो वो भी कर डालते...

मुझे याद आ रहे हैं वो दृश्य जिनमें कभी जम्मू कश्मीर का मुख्यमंत्री रहा अय्याश शख़्स, कोमा में जा चुका एक कवि और नेता, कभी गुजरात में महिलाओं की जासूसी के लिए मशहूर हुआ शख़्स, अब मार्गदर्शक मंडल की शोभा बढ़ा रहा पूर्व लौह पुरूष इस आसाराम का हौसला बढ़ाने पहुँचते थे।...दोनों हाथ जोड़े इन नेताओं की आत्मा तब नहीं कचोटती थी कि इस ढोंगी बाबा के आश्रम के कोने में कोई लड़की अपनी इज़्ज़त लुटाने के बाद सिसक रही होगी।

गुजरात की भक्त महिलाओं को सेक्स पावर की दवा बाँटने वाले इस बाबा की कृपा के लिए नेताओं को मैंने तरसते देखा...आख़िर उन्हें एक ढोंगी बाबा में ऐसा क्या दिखता था जो उनके दोनों हाथ हर समय सेवाभाव में जुड़े रहते थे।... लेकिन एक बात के लिए इस बाबा की तारीफ़ करनी होगी कि इसके पास भी नेताओं की अनगिनत सीडी थी...इसके आश्रम के फ़ाइव स्टार सरीखे कमरों के फ़ोटोग्राफ़...सब कुछ इसके पास था लेकिन बेचारे ने कभी इस्तेमाल नहीं किया।

घिन आती है ऐसे बाबाओं से जिनके लाखों करोड़ों भक्त हों और वह किसी नाबालिग़ बच्ची को अपनी हवस का शिकार बनाए...आख़िर कौन हैं वह महिलाएँ...कैसा उनका दिल था जो इसके लिए उन बच्चियों को बहकाकर लाती थीं।...आप किसी भी धर्म को मानने वाले हों लेकिन इतना कॉमनसेंस तो होना ही चाहिए कि अगर किसी बाबा पर नोटों की बारिश हो रही हो तो वह ज़रूर किसी ग़लत धंधे में शामिल होगा...आप बाबा के आसपास जुटने वाली भीड़ और सारी चकाचौंध देखकर बौरा (बौड़ा) जाते हैं।...

बाबा हमें बार बार धोखा दे रहे हैं लेकिन हम लोग हार मानने को तैयार नहीं हैं।....हमारी आँखों पर पट्टी बंधी हुई है। ...योग सिखाते सिखाते घी, तेल, नमक, साबुन बेचने वाला बाबा लोगों को सरेआम मूर्ख बना रहा है...खुलेआम टैक्स चोरी कर रहा है लेकिन हम लोग उसके दीवाने होते जा रहे हैं...एक और बाबा जो यमुना के किनारों और अदालत के फ़ैसलों को अपने पैरों तले मसल देता है वह हमें ज़िंदगी जीने का ढंग बता रहा है और हम लोग टकटकी बाँधे उसके बेतुके प्रवचन सुनते रहते हैं। 
उस दिन का इंतज़ार है जब इन सब के धंधे खुलेंगे तब ये मत कहना कि पहले क्यों नहीं बताया?  

आपका धर्म आपको सही तरह से गाइड करने के लिए काफ़ी है...कोई बहुरूपिया बाबा आपके धर्म की आड़ में आपको क्यों नियंत्रित करे।

Reference:

Asaram sentenced to life imprisonment

The Jodhpur court on Wednesday convicted Asaram, besides three of the five co-accused, in a five-year-old case of raping a minor. Pronouncing the verdict inside the Jodhpur jail, amid tight security, the court held the self-styled godman guilty of assaulting and outraging the modesty of a 16-year-old woman who, at the time of the incident, was a student at one of Asaram’s ashrams in Chhindwara, Madhya Pradesh. The incident allegedly took place on the night on August 15, 2013, at another #Asaram ashram in Manai area near Jodhpur.


1 comment:

HARSHVARDHAN said...

आपकी इस पोस्ट को आज की बुलेटिन विश्व मलेरिया दिवस और ब्लॉग बुलेटिन में शामिल किया गया है। कृपया एक बार आकर हमारा मान ज़रूर बढ़ाएं,,, सादर .... आभार।।