मैं उस देश का वासी हूँ...


जी हाँ, मैं उस देश का वासी हूँ...

जिस देश में इंसाफ़ सुप्रीम कोर्ट के कॉरिडोर में रौंदा जा रहा हो...
जिस देश का चीफ़ जस्टिस तिरंगे पर बार बार फ़ैसला पलटता हो...

जिस देश में मीडिया सत्ता की कदमबोसी कर रहा हो...
जिस देश का मीडिया मसले जाने से पहले सरेंडर कर रहा हो...

जिस देश में मुख्यमंत्री को अपने ही मुक़दमे वापस लेने की छूट हो...
जिस देश में मुख्यमंत्री को जासूसी और नरसंहार  की छूट हो...

जिस देश में सेना के जनरलों को राजनीतिक बयानों की छूट हो...
जिस देश में सेना के जनरलों को राजनीति में आने की छूट हो...

जिस देश में जंतरमंतर पर प्रदर्शन की आज़ादी छीन ली गई हो...
जिस देश में किसी विकलांग का जनविरोध देशद्रोह होता हो ...

जिस देश में भात न मिलने पर कोई बच्ची दम तोड़ देती हो...
जिस देश में ग़रीब को बच्चे की लाश ख़ुद ढोना पड़ती हो...

जिस देश में दलित और आदिवासी शहरी नक्सली कहलाते हों...
जिस देश में किसान क़र्ज़ न चुकाने पर आत्महत्या करते हों...

जिस देश में बैंकों और जनता का पैसा लेकर भागने की छूट हो...
जिस देश में प्राकृतिक संसाधनों को लूटने की पूरी छूट हो...


बिल्कुल, मैं उस देश का वासी हूँ।

Comments

Popular posts from this blog

आमिर खान और सत्यमेव जयते…क्या सच की जीत होगी

क्या मुसलमानों का हाल यहूदियों जैसा होगा ...विदेशी पत्रकार का आकलन

मुसलमान मुर्ग़ा रोटी खाकर मस्त, जैसे उसे कोई सरोकार ही न हो